प्रेग्नेंसी में पैक्ड फ्रूट जूस का सेवन क्यों नहीं करना चाहिए ? जानें एक्सपर्ट की राय

फ्रूट जूस का सेवन करना बेहद फायदेमंद माना जाता है, लेकिन क्या आप जानती हैं प्रेग्नेंसी
में पैक्ड जूस पीना सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है।   

प्रेग्नेंसी किसी भी महिला के जीवन के सबसे खास दौर में से एक है। गर्भवती महिलाएं अपनी सेहत से ज्यादा गर्भ में पल रहे बच्चे के स्वास्थ्य का ध्यान रखती हैं। 9 महीने तक महिलाएं खान पान का काफी ध्यान रखती हैं। ताकि बच्चे के स्वास्थ्य पर किसी भी तरह का बुरा प्रभाव न पड़े। ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान डाइट का विशेष ध्यान रखा जाता है। मां और बच्चे दोनों स्वस्थ रहें इसके लिए जूस पीने की सलाह दी जाती है।

प्रेग्नेंसी के दौरान अधिकतर महिलाएं पैक्ड फ्रूट जूस का सेवन करती हैं। ताकि बच्चे को जरूरी पोषण मिल सके। बच्चे के विकास के लिए जूस काफी अच्छा माना जाता है। लेकिन क्या सच में पैक्ड फ्रूट जूस सेहत के लिए हेल्दी है? इस विषय पर अधिक जानकारी के लिए हमने फैट टू स्लिम ग्रुप की सेलिब्रिटी इंटरनेशनल डायटीशियन और न्यूट्रिशनिस्ट शिखा अग्रवाल शर्मा से बात की और उन्होंने बताया है कि पैक्ड जूस बिल्कुल भी हेल्दी नहीं है। 

एक्सपर्ट के अनुसार पैक्ड जूस न केवल गर्भवती महिला बल्कि बच्चों से लेकर बड़ों तक के लिए नुकसानदायक होता है। इसलिए खासतौर पर प्रेग्नेंसी के दौरान इसका सेवन करने से मना किया जाता है। क्या आपके दिमाग में भी यही सवाल आ रहा है कि भला पैक्ड जूस कैसे अनहेल्दी हो सकता है। जबकि बॉलीवुड सेलेब्स जूस के फायदे का विज्ञापन करते हैं। अक्सर अपने आस-पास के लोगों से इसके फायदे के बारे में भी जरूर सुना होगा। लेकिन यह शरीर को फायदा कम नुकसान ज्यादा पहुंचा है। आइए विस्तार से जानते हैं।

न्यूट्रिशन की कमी

juice effect on pregnancy ()

गर्भवती महिलाएं जूस का सेवन न्यूट्रिशन की कमी को पूरा करने के लिए पीती हैं। लेकिन क्या आप जानती हैं पैकेट बंद जूस को उबालकर बनाया जाता है। जिसकी वजह से जूस के सभी पोषक तत्व खत्म हो जाते हैं। ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान इनका सेवन नहीं करना चाहिए।

प्रिजर्वेटिव जूस

जूस को लंबे समय तक बचा कर रखने के लिए प्रिजर्वेटिव का इस्तेमाल किया जाता है। आर्टिफिशियल प्रिजर्वेटिव जूस की रासायनिक संरचना को बदल देते हैं जिससे सेहत को काफी नुकसान होता है। ज्यादा मात्रा में पैक्ड जूस का सेवन करने से शरीर में सोडियम और सैचुरेटेड फैट की मात्रा अधिक बढ़ जाती है।  (प्रेग्नेंसी हेल्दी डाइट)

आर्टिफिशियल कलर

juice effect on pregnancy ()

पैक्ड जूस में आर्टिफिशियल कलर का उपयोग किया जाता है जो कि मां और गर्भ में पल रहे बच्चे के लिए खतरनाक माना जाता है। (प्रेग्नेंसी के लिए हेल्दी ड्रिंक्स)

इसे जरूर पढ़ेंः  मिसकैरेज के बाद कैसे करें कंसीव, जानें दोबारा मां बनने के लिए सही सलाह

डायबिटीज खतरा 

पैक्ड फ्रूट जूस बनाने के लिए रिफाइंड शुगर का अधिक मात्रा में प्रयोग किया जाता है। ऐसे में प्रेग्नेंसी के दौरान जूस का अधिक सेवन करने से डायबिटीज का खतरा बढ़ सकता है। रोजाना जूस पीने से ब्लड शुगर लेवल बढ़ जाता है। हेल्दी प्रेग्नेंसी के लिए इस जूस का सेवन न करें।

इसे जरूर पढ़ेंः  महिलाएं प्रेग्‍नेंसी और पीरियड्स के दौरान कर सकती हैं ये 3 योग

बच्चे के ब्रेन को नुकसान

juice effect on pregnancy ()

गर्भ में पल रहे बच्चे के विकास के लिए हेल्दी फूड्स लेना बहुत जरूरी होता है। वहीं मार्केट में मिलने वाले पैक्ड और फ्लेवर्ड फ्रूट जूस में मरकरी और कैडमियम पाया जाता है, जो कि बच्चे के विकास पर बहुत बुरा प्रभाव डालता है।

 

प्रेग्नेंसी के लिए हेल्दी जूस 

juice effect on pregnancy ()

हेल्दी प्रेग्नेंसी के दौरान ताजा फलों से बना जूस का सेवन करना चाहिए। यह सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। अच्छी सेहत के लिए घर पर ही फलों का जूस बनाकर पीना चाहिए।

  • अनार जूस- प्रेग्नेंसी के दौरान अनार जूस का बेहद फायदेमंद होता है। ताजे अनार से बना जूस का सेवन करने से शरीर में खून की कमी नहीं होती है। 
  • मैंगो शेक- मैंगो शेक का सेवन करने से शरीर में आयरन और फाइबर की कमी नहीं होती है। 
  • सेब का जूस- सेब के जूस में एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और मिनरल्स पाए जाते हैं जो कि प्रेग्नेंसी के लिए बेहद फायदेमंद होता है। 

उम्मीद है कि आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य आर्टिकल पढ़ने के लिए हमें कमेंट कर जरूर बताएं और जुड़े रहें हमारी वेबसाइट हरजिंदगी के साथ।

Image Credit: freepik

 

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स
के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है,
लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर
की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए,
[email protected]
पर हमसे संपर्क करें।

Leave a Comment