Cooking Hacks : खाने में पड़ गई ज्यादा हल्दी को ऐसे करें बैलेंस

खाने में नमक ज्यादा हो जाए तो कम किया जा सकता है, लेकिन अगर हल्दी कम हो जाए तो फिर
आप क्या करेंगी?  

How to Reduce Turmeric in Food : हल्दी स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होती है। इसके एंटीबायोटिक गुण हमारे शरीर की इम्युनिटी को बढ़ावा देते हैं। आयुर्वेद में इसके कई लाभ बताए गए हैं और यह वात कफ दोषों को कम करने के साथ शरीर में खून बढ़ाने में मदद करती है। यह सब तो ठीक है, लेकिन अगर खाने में हल्दी ज्यादा हो जाए तो क्या करेंगे।

कई बार खाना बनाते वक्त ऐसा होता है कि सामग्री किसमें कितनी पड़नी चाहिए, इसका अंदाजा नहीं हो पाता और चीजें कम ज्यादा डाल ही देते हैं। अब अगर कुछ कम हो जाए, तो फिर भी एडजस्ट किया जा सकता है, मगर कोई सामग्री गलती से ज्यादा हो जाए, तो वह स्वाद को किरकिरा कर देता है।

नमक और मिर्च जैसी सामग्री को तो दही, आटे की गोली से फिर भी बैलेंस किया जा सकता है, लेकिन अगर हल्दी ज्यादा हो जाए तो वह खाने को कड़वा बना देती है। खाने में हल्दी का तेज फ्लेवर महकने लगता है और खाना बिल्कुल भी खाया नहीं जाता है। चलिए आज आपको यह बताएं कि हल्दी अगर खाने में ज्यादा पड़ जाए तो उसे कैसे बैलेंस किया जा सकता है। 

इसे भी पढ़ें : खाने में इस तरह कम करें नमक की मात्रा, ये टिप्स आएंगी काम

अन्य सामग्री को करें Add

क्या आपके खाने में हल्दी ज्यादा हो गई है? तो उसमें बाकी सामग्री भी ज्यादा कर दें! जी हां, हल्दी जैसी फ्लेवरफुल सामग्री को बैलेंस करने का अच्छा तरीका है कि आप इसे अन्य सामग्रियों से डायल्यूट करें। हल्दी के टेस्ट को प्रभावी ढंग से कम करने के लिए आप बाकी सामग्रियों को भी थोड़ा-थोड़ा डाल दें, यानी रेसिपी में दोगुने मसाले जोड़े हैं। इससे खाने में टेस्ट बैलेंस होगा और हल्दी की महक ज्यादा नहीं आएगी। 

नारियल का दूध डालें

add coconut milk

नारियल का दूध भी कई सारी रेसिपीज में किया जाता है। इसे खासतौर से दक्षिण भारतीय व्यंजनों में उपयोग किया जाता है, लेकिन अगर आप इसे नॉर्थ इंडियन डिशेज में भी यूज कर सकते हैं। अगर आपकी डिश में हल्दी ज्यादा हो गई है और उसके कारण टेस्ट भी कड़वा लगने लगा है, तो उसमें नारियल का दूध डालकर थोड़ी देर पका लें। इससे न सिर्फ आपकी डिश में एक अनोखा और स्वादिष्ट स्वाद भी आएगा और हल्दी की कड़वाहट भी दूर होगी। 

अमचूर या आंवला पाउडर डालें

put mango powder to food

कई सारी चीजों में हम खटास के लिए अमचूर पाउडर तो डालते ही हैं। अगर आप एसिडिक कंपाउंड अपनी डिश में डालते हैं, तो भी हल्दी का स्वाद काफी हद तक बैलेंस हो सकता है। आप अमचूर की जगह आंवला पाउडर भी डाल सकते हैं। इसके अलावा इमली का पेस्ट या पाउडर भी अच्छी तरह से वर्क करेगा। इन सामग्रियों की बढ़ी हुई अम्लता बहुत अधिक हल्दी से आने वाली कड़वाहट को बेअसर या कम करने में मदद कर सकती है।

इसे भी पढ़ें : खाने में पड़ गई है अधिक मिर्च और नमक तो इस तरह बदलें उसका स्वाद

ग्रेवी में डालें पानी, दही और नमक

वैसे तो कई लोग हल्दी कम करने के लिए सब्जियों को धो देते हैं या मसाला हटा देते हैं। लेकिन ऐसा हर बार किया जाना बड़ा समय बर्बाद करेगा और सामग्री की भी बर्बादी होती है। ऐसे में आप अगर कोई ग्रेवी ऐसी बना रहे हैं जिसमें हल्दी ज्यादा पड़ गई हो तो उसमें से सब्जी को अलग करें और पानी,नमक और दही डालकर ग्रेवी को पकाएं। इससे भी हल्दी की थोड़ी कड़वाहट कम हो सकती है। ऐसा आप तब कर सकते हैं, जब आपके पास नया कुछ बनाने का समय बिल्कुल न हो।

कच्चे आलू डालें

add raw potato to food

यह तरीका हल्दी और नमक दोनों की परेशानी को सॉल्व कर सकता है। अगर आपके खाने में जल्दबाजी में हल्दी और नमक दोनों ही ज्यादा हो गया है, तो आप यह काम कर सकते हैं। एक कच्चे आलू (कच्चे आलू से बनाएं मंचूरियन) को 5 से 6 पीसेस में मोटा-मोटा कट कर लें और उसे अपनी ग्रेवी में डालकर 4-5 मिनट धीमी आंच पर कुक करें। आलू हल्दी और नमक को अब्सॉर्ब करेगा और आपके खाने से कड़वाहट भी दूर होगी।

अब अगर आपने भी अपनी सब्जी या दाल में हल्दी ज्यादा कर दी है, तो आप इन तरीकों को आजमाकर हल्दी के फ्लेवर को कम कर सकते हैं। इससे फ्लेवर बैलेंस हो जाएगा और आपका स्वाद भी खराब नहीं होगा।

हमें उम्मीद है कि हल्दी कम करने के ये टिप्स आपके काम आएंगे। अगर आपको यह लेख पसंद आया तो इसे लाइक और शेयर करें। ऐसे अन्य टिप्स पढ़ने के लिए जुड़े रहें हरजिंदगी के साथ।

Image Credit : Freepik

Disclaimer

आपकी स्किन और शरीर आपकी ही तरह अलग है। आप तक अपने आर्टिकल्स और सोशल मीडिया हैंडल्स
के माध्यम से सही, सुरक्षित और विशेषज्ञ द्वारा वेरिफाइड जानकारी लाना हमारा प्रयास है,
लेकिन फिर भी किसी भी होम रेमेडी, हैक या फिटनेस टिप को ट्राई करने से पहले आप अपने डॉक्टर
की सलाह जरूर लें। किसी भी प्रतिक्रिया या शिकायत के लिए,
[email protected]
पर हमसे संपर्क करें।

Leave a Comment